CBSE Exam News: 10वीं 12वीं के लिए बोर्ड ने कर दिए बड़े बदलाव,छात्रों के लिए नई मुसीबत,साल में 2 परीक्षा के साथ बदल गया पैटर्न

CBSE Exam News/CBSE Board Exam 2025 Latest Update: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड 10वीं और 12वीं बोर्ड रिजल्ट की घोषणा पहले ही कर चुका है रिजल्ट की घोषणा के बाद आगामी शैक्षणिक वर्ष की तैयारी भी शुरू कर दी गई हैं और सीबीएसई बोर्ड की पढ़ाई अप्रैल माह से शुरू हो चुकी है वहीं इसी बीच एक बहुत बड़ी खबर है शिक्षा मंत्रालय द्वारा सीबीएसई को शैक्षणिक सत्र 2025-26 में साल में दो बार बोर्ड परीक्षा आयोजित करने के लिए लॉजिस्टिक्स विकसित करने का निर्देश दे दिया गया है विभाग के अनुसार सेमेस्टर प्रणाली शुरुआत को खारिज कर दिया गया है अगले महीने शिक्षा मंत्रालय और केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड आगामी बोर्ड परीक्षाओं के लिए रणनीति बनाएंगे।CBSE Exam News

NEP 2020 के तहत होंगे बदलाव

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अंडर ग्रेजुएट एडमिशन शेड्यूल को बिना किसी बाधा के बोर्ड परीक्षाओं के अतिरिक्त सेट को समायोजित करने के लिए एकेडमिक कैलेंडर की संरचना पर तैयारी कर रहा है जानकारी देन दें की सभी बदलाव राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुसार किया जा रहे हैं राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुरूपी पिछले साल केंद्र सरकार द्वारा शिक्षा व्यवस्था में कई तरह के बदलाव की घोषणा की गई है।

साल में होंगी 2 बोर्ड परीक्षाएं

2024 में शैक्षणिक सत्र के लिए साल में दो बार बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन किया जाएगा दोनों परीक्षाओं में से जिस भी परीक्षा में छात्र को सर्वोत्तम अंक प्राप्त होंगे वह उन अंको का प्रयोग आगे की पढ़ाई में कर सकता है। अर्थात जब छात्र साल में दो बार बोर्ड परीक्षा देगा तो जिस परीक्षा में छात्र को अधिक अंक प्राप्त होंगे उसे परीक्षा के अंक को आगे के लिए प्रयोग कर सकेगा। और छात्र को केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की 10वीं 12वीं दोनों परीक्षा में उपस्थित होने के बाद प्राप्त सर्वोत्तम अंकों को अपने पास रखना होगा।

CBSE बोर्ड का बदल गया पैटर्न

सीबीएसई बोर्ड परीक्षा में किए गए इस बड़े बदलाव में सवालों के फॉर्मेट से लेकर मूल्यांकन प्रक्रिया को भी बदल दिया गया है जानकारी दे दें कि सीबीएसई बोर्ड 11वीं 12वीं के फाइनल रिजल्ट में हर विषय के कुल अंकों को 100 से कम करके 80% कर दिया गया है अब छात्रों को 20% मार्क्स एसेसमेंट और प्रैक्टिकल एग्जाम के साथ-साथ प्रोजेक्ट वर्क के आधार पर दिए जाएंगे।

रटने बाले छात्रों की होगी आफत

सीबीएसई बोर्ड के नए परीक्षा पैटर्न से छात्रों को काफी फायदा मिलने वाला है लेकिन उन छात्रों को तगड़ा नुकसान भी होगा जो परीक्षा से पहले रटने की आदत लगाए हुए हैं बोर्ड द्वारा कक्षा 11वीं 12वीं के नए परीक्षा पैटर्न में भी कंप्टेंसी बेस्ड सवालों को बढ़ाया गया है इससे छात्रों की रखने की प्रक्रिया पर रोक लगाई जा सकेगी।

CBSE Board Exam Format 2025

बोर्ड द्वारा 11वीं और 12वीं में एमसीक्यू कंप्टेंसी बेस्ड और सोर्स बेस्ट सवालों में वृद्धि की जाएगी अब कंबटेंसी बेस्ड सवालों का प्रतिशत 40 से बढ़कर 50 कर दिया गया है वहीं शार्ट और लॉन्ग आंसर वाले सवालों को 40 से घटाकर 30% कर दिया गया है जो छात्र किताबों से रटने में विश्वास रखते हैं उनके लिए यह किसी मुसीबत से कम नहीं है उन्हें अब और अधिक मेहनत करनी पड़ेगी।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now