Skill Training In Up School: 9वीं से 12वीं के छात्रों को स्कूलों में मिलेगी अब नौकरी की फ़्री ट्रेनिंग

Skill Training In Up School: ऐसे छात्र जो स्कूल की पढ़ाई कर रहे हैं तो उनके लिए अच्छी खबर है अब ऐसे सभी छात्रों को स्कूल में ही प्रोफेशनल ट्रेनिंग दी जाएगी बच्चे गणित विज्ञान अंग्रेजी हिंदी जैसे विषयों की पढ़ाई के साथ-साथ अन्य कई स्किल भी सीख सकते हैं इसके लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरुआत की जा रही है इन स्किल की बात की जाए तो कुल 12 ट्रेड चुने गए हैं यूपी बोर्ड के सभी स्कूलों में अब बच्चे रोजगार के लिए तैयार हो सकेंगे अर्थात उन्हें प्रोफेशनल ट्रेनिंग प्राप्त होगी।

स्किल इंडिया मिशन के अंतर्गत माध्यमिक शिक्षा विभाग द्वारा संचालित स्कूलों में पढ़ाई कर रहे छात्र-छात्राओं के लिए अच्छी खबर है अब इन सभी छात्र-छात्राओं को व्यावसायिक रूप में ट्रेंड किया जाएगा राज सरकार द्वारा दिशा निर्देश जारी किया गया है इसके लिए  कमेटी ने 9वीं से 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए 12 ट्रेड का चयन किया है बच्चों के लिए रोजाना व्यवसायिक शिक्षा के लिए स्कूल टाइम में ही 40 मिनट की अतिरिक्त क्लास लगेगी जिसमें प्राइवेट ट्रेनिंग पार्टनर के माध्यम से प्रशिक्षक ट्रेनिंग की जानकारी देंगे बच्चों के लिए ट्रेनिंग की सामग्री व उपकरण आदि की व्यवस्था ट्रेनिंग पार्टनर द्वारा ही की जाएगी।Skill Training In Up School

Short Courses for Job इन ट्रेड्स में मिलेगी ट्रेनिंग

स्किल इंडिया मिशन के अंतर्गत माध्यमिक शिक्षा विभाग के स्कूलों में छात्र-छात्राओं को निम्नलिखित टेस्ट में ट्रेनिंग दी जाएगी।

  • ड्यूटी एंड वैलनेस
  • टूरिज्म एंड हॉस्पिटैलिटी
  • फूड प्रोसेसिंग
  • सिलाई
  •  प्लंबिंग
  • पावर
  • रिटेल बैंकिंग
  • फाइनेंस
  • इंश्योरेंस
  • इलेक्ट्रॉनिक
  • मीडिया एंड एंटरटेनमेंट
  • हेल्थ केयर

40 मिनट की होगी अतिरिक्त क्लास

नई शिक्षा नीति को ध्यान में रखते हुए माध्यमिक स्कूलों में पढ़ रहे बच्चों को तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में ट्रेंड किया जाएगा शासन के आदेश पर गठित कमेटी 12 ट्रेड का चयन करेगी पहले चरण में उत्तर प्रदेश के गौतम बुद्ध नगर के दो संस्थान को सेलेक्ट किया गया था पहले चरण में जिले के राजकीय इंटर कॉलेज में बच्चों को आईटी और ब्यूटी एंड वैलनेस का प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है जबकि राजकीय बालिका इंटर कॉलेज में बच्चों को आईटी और सिलाई की जानकारी दी जा रही है अब दूसरे चरण में कोर्स ऐडेड और तीसरे चरण में निजी स्कूलों में इस कार्यक्रम को चलाया जाएगा स्कूल अवधि में ही बच्चों को नौकरी के लिए ट्रेनिंग दी जाएगी इस ट्रेनिंग की अवधि 200 घंटे की होगी अर्थात प्रतिदिन 40 मिनट की क्लास लगाई जाएगी।

पूरा खर्च उठाएगी स्किल इंडिया मिशन

डीआईओएस कक्षा 9वीं व 11वीं कक्षा के लिए 35 35 बच्चों के ग्रुप बनाए जाएंगे इसमें अलग-अलग जानकारी दी जाएगी कक्षा 9 व 11 में रजिस्टर्ड विद्यार्थियों को 9 महीने तक ट्रेनिंग दी जाएगी प्रदेश स्तर से हर जनपद से ट्रेड के चयन के लिए कमेटी गठित कर दी गई है इस पाठ्यक्रम से संबंधित सभी तरह का ख़र्चा कौशल विकास मिशन द्वारा बहन किया जाएगा।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now