UP Education Service Commission : यूपी शिक्षा सेवा आयोग के गठन को कैबिनेट की मंजूरी,शिक्षक भर्तियों का रास्ता साफ

UP Education Service Commission

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
UP Education Service Commissiona(UPESC) : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंगलवार को  कैबिनेट बैठक की गई बैठक में कई महत्वपूर्ण प्रस्तावों पर कैबिनेट की मुहर लगाई गई है बैठक में कुल 33 प्रस्तावों को रखा गया था जिसमें से 32 प्रस्ताव कैबिनेट ने पास किए हैं इनमें से प्रमुख प्रस्ताव  UP Education Service Commission के गठन को लेकर है आइए इन सभी प्रस्ताव के बारे में विस्तार से जानते हैं।

कैबिनेट मीटिंग में लिए गए निर्णय

मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में लोक भवन में कैबिनेट की मीटिंग की गई जिसमें से निम्नलिखित प्रस्तावों पर मुहर लगाई गई है आइए विस्तार से महत्वपूर्ण प्रस्तावों के बारे में जानते हैं।

यूपी शिक्षा सेवा चयन आयोग का गठन (UPESC)

उत्तर प्रदेश कैबिनेट मीटिंग में UP Education Service Commission के गठन को लेकर उत्तर प्रदेश शिक्षा सेवा चयन आयोग विधायक के मसौदे को कैबिनेट द्वारा मंजूरी दे दी गई है अब सभी भर्तियां नए शिक्षा सेवा चयन आयोग के माध्यम से होंगें शिक्षा सेवा चयन आयोग में कुल 12 सदस्य तथा एक अध्यक्ष होगा और इसका मुख्यालय प्रयागराज में बनाया जाएगा। नए आयोग द्वारा प्राथमिक शिक्षक भर्ती, माध्यमिक शिक्षक भर्ती सहित राज्य विद्यालयों बा महाविद्यालयों के लिए भर्ती के लिए रास्ता साफ हो गया है।

UP Education Service Commission latest News

उत्तर प्रदेश के प्राथमिक उच्च प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालय के साथ राज्य विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में शिक्षक के पदों पर भर्ती के लिए लाखों अभ्यर्थी काफी लंबे समय से इंतजार कर रहे हैं और शिक्षक भर्ती के साथ शिक्षक पात्रता परीक्षा ओं की तैयारी के लिए भी जी जान से जुटे हुए हैं उन सभी लाखों मीन बारों के लिए बड़ी खबर उत्तर प्रदेश सरकार में उत्तर प्रदेश शिक्षा आयोग (UP Education Service Commission) को मंजूरी दे दी है अब उत्तर प्रदेश के तमाम सहायता प्राप्त और शसकीय विद्यालयों तथा उच्च शिक्षण संस्थानों में पेंडिंग पड़ी भर्तियां बहुत जल्दी पूरी हो जाएंगी नए आयोग के गठन की मंजूरी के बाद शिक्षक भर्तियों का रास्ता साफ हो गया है।

जाने क्या है उत्तर प्रदेश शिक्षा सेवा आयोग (UPESC)

जानकारी दे दें उत्तर प्रदेश शिक्षा सेवा आयोग द्वारा सभी एडिट स्कूलों, सरकारी स्कूलों, डिग्री कॉलेजों, यूनिवर्सिटी के साथ-साथ टेक्निकल इंस्टिट्यूट आदि के लिए भी शिक्षक भर्ती उत्तर प्रदेश शिक्षा सेवा आयोग के अंतर्गत ही की जाएगी। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश शिक्षा सेवा आयोग द्वारा उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (UPTET) और राज्य पात्रता परीक्षा (SET) Super Tet Exam का आयोजन भी या जाएगा।

सभी शिक्षक भर्तियों का है अलग आयोग

जानकारी दे दें उत्तर प्रदेश में विभिन्न स्तरों पर शिक्षकों की भर्ती विभिन्न आयोगों द्वारा या चयन बोर्ड द्वारा किया जाता था इसके साथ ही माध्यमिक तथा प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक भर्ती का आयोजन अब तक माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड द्वारा किया जाता है वहीं दूसरी ओर बात करें तो डिग्री कॉलेज और विश्वविद्यालयों के असिस्टेंट प्रोफेसर सहित अन्य पदों पर भर्ती की प्रक्रिया उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग द्वारा की जाती है लेकिन नई शिक्षा सेवा आयोग के गठन के बाद अभी सभी भर्तियां नए आयोग के अधीन की जाएंगे।

खुल गई शिक्षक भर्ती की राह

नए शिक्षा सेवा आयोग के गठन को लेकर लाखों अभ्यर्थी लंबे समय से मांग कर रहे हैं और धरना प्रदर्शन भी कर रहे हैं कुछ दिन पहले ही छात्रों द्वारा ट्विटर अभियान भी चलाया गया था इन सभी कारणों से सरकार द्वारा नए शिक्षा सेवा चयन आयोग के गठन को मंजूरी दी गई है अब जल्दी ही सभी शिक्षक भर्तियां रफ्तार पकड़ेंगे प्राथमिक शिक्षक भर्ती की बात करें 2 प्राथमिक शिक्षा विभाग में 90000 से अधिक पद रिक्त चल रहे हैं जिनको भरने के लिए शिक्षक भर्ती का रास्ता साफ हो गया है।

Follow Google News

इन्हें पढ़ें….

यूपी के सरकारी अस्पतालों में लगेंगी 400 हेल्थ एटीएम मशीनें,ATM मशीन से होगा इलाज

 सरकार ने शिक्षामित्रों के मानदेय में की बढ़ोतरी, अब 12,500 रुपए मिलेगा मानदेय

आवेदन करें मिलेंगे 30 हजार रुपए साथ में लाखों का फायदा,जानें कैसे

बिजली ग्राहकों को बड़ा झटका यूनिट के बढ़ गए दाम, नई रेट लिस्ट यहां देखें

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now